क्रिप्टो में Airdrops क्या होते है ?

जब भी हम किसी क्रिप्टोकोर्रेंसी की वेबसाइट पर जाते है तो हमे Airdrops शब्द देखने को जरूर से मिलता है लेकिन हम में से बहुत सारे लोग है जो की Airdrops क्रिप्टो में किस चीज के लिए काम में लिया जाता है इसके बारे में नहीं जानते है। लेकिन आज में आपको Airdrops का क्या मतलब होता है इसके बारे में बताने वाला हु जिसमे आपको क्रिप्टोकोर्रेंसी मार्किट में Airdrops शब्द क्यों काम में लिया जाता है इसके बारे में और साथ में ये भी जानकारी मिलने वाली है की हमे Airdrops कैसे मिल सकते है और इसके काम करने का तरीका क्या है।

Cryptomarktbag को भारत के लोगो को हिंदी में क्रिप्टो के सम्बंधित सारी जानकारी देने के लिए बनाया गया है जिसमे आपको क्रिप्टो मार्किट से सम्बंधित बहुत सारी जानकारिया हिंदी भाषा में मिलने वाली है। अगर आपको क्रिप्टो से सम्बंधित जानकारिया हिंदी में जननी है तो आप हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्वाइन कर सकते हो जिसमे आपको क्रिप्टो करेंसी से सम्बंधित सारी जानकारिया हिंदी भाषा में मिलने वाली है।

अब बात कर लेते है की क्रिप्टो मार्किट में जो सब्द काम में लिया जाता है जिसको की क्रिप्टो Airdrops कहते है इसका मतलब क्या होता है।

Airdrops क्या होता है।

सामान्य भाषा में भी हम Airdrops सब्द को काम में लेते है लेकिन जब ये सब्द क्रिप्टो या फिर वेब 3 से जुड़ जाता है तो इसका मतलब और उद्देश्य दोनों ही बदल जाता है। Airdrops का मतलब होता है एक ऐसा बॉक्स या फिर जगह जहा पर किसी एक चीज की भरपूर सप्लाई उपलब्ध होती है। लेकिन क्रिप्टो मार्किट में Airdrops का उपयोग थोड़ा अलग जगह किया जाता है।

क्रिप्टो में Airdrops का मतलब किसी नए या फिर पुराने क्रिप्टो करेंसी को मार्किट करने के तरीके में काम में लिया जाता है। मतलब की क्रिप्टोकोर्रेंसी की दुनिया में Airdrops का मतलब मार्केटिंग करने के बदले में कोई कॉइन या फिर क्रिप्टोकोर्रेंसी मिलना बोल सकते है। इसको हम सामान्य शब्दों में Affiliate marketing की जैसे ही समझ सकते है लेकिन इसमें Affiliate marketing से थोड़ा अलग कांसेप्ट भी काम में आता है। और इसके हिसाब से Airdrops को अलग अलग केटेगरी में बता गया है।

क्रिप्टोमार्केट में Airdrops की मदद से निवेश करने वालो को पहले मुफ्त में क्रिप्टो कॉइन या फिर टोकन मिलते है। ये एक मार्केटिंग करने का तरीका है जो की बहुत सारे नए क्रिप्टो प्लेटफार्म काम में लते है।

Airdrops नई वर्चुअल करेंसी के मार्केटिंग का तरीका है जिसमे किसी अकाउंट होल्डर को मुफ्त में क्रिप्टोकोर्रेंसी दी जाती है ताकि एक्टिव यूजर उस क्रिप्टो कॉइन का प्रमोशन करे और लोगो की नजरो में वो क्रिप्टोकोर्रेंसी भी आये।

Airdrops के काम करने का तरीका हिंदी में जाने।

Airdrops तब काम में लिया जाता है जब कोई नई वर्चुअल करेंसी मार्किट में आती है और उसको कोई जनता नहीं है उस समय प्रचार के लिए कंपनी उनके क्रिप्टो वॉलेट के एड्रेस कलेक्ट करती है जो की क्रिप्टो कम्युनिटी में एक्टिव होते है। और फिर उसमे वो कॉइन या टोकन भेजती है। जब ये टोकन मिलते है तो फिर वॉलेट एड्रेस वाले उनको प्रोमोट करते है और बदले में उनको वो क्रिप्टो टोकन मिल जाते है। बहुत बार तो कंपनी खुद ही किसी वॉलेट में ये दाल देती है और फिर उन वॉलेट के एड्रेस को प्रोमोट करती है ताकि लोगो तक उस कॉइन के बारे में जानकारी पहुंच सके।

इस प्रकार Airdrops काम करते है

और अगर आपको क्रिप्टो Airdrops लेने है तो फिर आपको गूगल पैर सीधा सर्च करना है की फ्री Airdrops कहा मिलेगा और आपको बता दे की ये रोज ही अपडेट होते रहते है तो फिर आप आपने हिसाब से डेली सर्च कर सकते है। लेकिन ध्यान रहे की आपको इसके बारे में रिसर्च करना भी जरुरी है नहीं तो आप भी क्रिप्टो के स्केम में फस सकते है इसलिए ये ध्यान रखें की आप जो भी Airdrops देख रहे हो उसका प्रोजेक्ट क्या है और ये प्रोजेक्ट कब तो और कैसे काम करेगा।

Leave a Comment

Your email address will not be published.